More
    Homeअपराधदो नाबालिग बच्चों की गला काटकर की गई हत्या गन्ने के खेत...

    दो नाबालिग बच्चों की गला काटकर की गई हत्या गन्ने के खेत में मिला शव अपराधियों की नहीं हुई शिनाख्त

    मनमोहन तिवारी ब्यूरो चीफ बहराइच

    बहराइच। थाना फखरपुर में शुक्रवार की रात अज्ञात हत्यारों ने दो बच्चों की गला रेतकर हत्या कर दी। गन्ने के खेत में दोनों बच्चों का मिला शव, सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस शिनाख्त में जुटी हुई है। इस घटना से क्षेत्र की जनता में आक्रोश दिख रहा है। पुलिस अधीक्षक सुजाता सिंह ने घटना स्थल का जायजा लिया। फिंगर प्रिट विशेषज्ञ भी मौके पर साक्ष्य संकलन में जुटे हैं। डॉग क्वायड का भी हत्यारों की तलाश में जुटे हुए हैं।
    फखरपुर थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत गजाधरपुर-बसंता संपर्क मार्ग पर सड़क किनारे शनिवार की सुबह गन्ने के खेत से एक लड़के व एक लड़की का शव बरामद हुआ। लड़के की उम्र करीब आठ वर्ष एवं लड़की की उम्र करीब 10 वर्ष है। दोनों बच्चे केवल लोवर पहने हुए थे। दोनों बच्चों की हत्यारों ने गला रेतकर निर्मम हत्या कर दी है। इसके बाद शव को गन्ने के खेत में फेंक दिया गया।
    पशुओं के लिए घास काटने गए किसानों ने सुबह गन्ने के खेत में दोनों बच्चों का शव देखा। शव मिलने से पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई है। देखते ही देखते मौके पर सैकड़ों लोगों की भीड़ इकट्ठा हो गई। ग्रामीणों ने मामले की सूचना फखरपुर थाना प्रभारी राजेश कुमार को दी। फखरपुर थाना प्रभारी राजेश कुमार सिंह पुलिस बल के साथ तुरंत घटना स्थल पहुंचे । तमाम कोशिश के बाद आसपास के लोगों द्वारा दोनों बच्चों की पहचान बता पाने में असमर्थ रहे। हत्या शुक्रवार की रात की बताई जा रही है। मौके पर मास्क भी मिले हैं। डॉग स्क्वायड एवं फिंगरप्रिंट एक्सपर्ट को मौके की जांच के लिए बुलाया गया। डॉग स्क्वायड की टीम अगल-बगल के खेतों को छान रही है। फिंगरप्रिंट एक्सपर्ट ने घटनास्थल के नमूने लिए है। सीओ कैसरगंज कमलेश कुमार सिंह ने बताया कि जब तक दोनों बच्चों के शवों की पहचान नहीं हो जाती है, कुछ भी कह पाना संभव नहीं है। मृतकों की शिनाख्त के लिए आसपास के थानों से मदद मांगी जा रही है।
    शव को फखरपुर पुलिस द्वारा पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। क्षेत्र के लोगों में दहशत बनी हुई है।

    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments