विश्व साक्षरता दिवस पर बालिकाओं ने जागरूकता रैली निकाली

0
20

अभिषेक त्रिपाठी/मिर्जामुराद

मिर्जामुराद। अंतरराष्ट्रीय साक्षरता दिवस के अवसर पर लोक समिति और आशा ट्रस्ट के तत्वावधान में बुधवार को भीखमपुर, चंदापुर,असवारी गाँव से आयी सैकड़ों बालिकाओं ने भीखमपुर बाजार में साक्षरता रैली निकालकर पूरे बाजार और गाँव का भ्रमण किया। रैली में लोगों ने पोस्टर बैनर के साथ साक्षर भारत-विकसित भारत, सब पढ़ें-सब बढ़ें। साक्षरता हमें जगाती है, शोषण से हमें बचाती है। साक्षरता ही है श्रंगार हमारा ,वरना व्यर्थ है जीवन सारा। पढ़ी लिखी जब होगी माता, घर की बनेगी भाग्य विधाता। शिक्षा है, अनमोल रतन,पढ़ने का सब करो जतन। पढ़ेंगे और पढ़ायेंगे, उन्नत देश बनायेंगे आदि नारों के साथ पुरे गाँव का भ्रमण किया। मौके पर किशोरी संगठन की संयोजिका सोनी ने कहा कि मानव विकास और समाज के लिये उनके अधिकारों को जानने और साक्षरता की ओर मानव चेतना को बढ़ावा देने के लिए अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस मनाया जाता है। अन्तर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस विश्व में 8 सितंबर को मनाया जाता है। वर्तमान समय में शिक्षा बहुत जरूरी है। शिक्षा हमारे जीवन का आवश्यक अंग है। एक व्यक्ति का शिक्षित होना उसके स्वयं का विकास है, वहीं एक बालिका शिक्षित होकर पूरे घर को संवार सकती है। जब देश का हर नागरिक साक्षर होगा तभी देश की तरक्की हो सकेगी। महिला समूह की संयोजिका अनीता पटेल ने कहा कि साक्षरता का तात्पर्य सिर्फ पढऩा-लिखना ही नहीं बल्कि यह सम्मान और विकास से जुड़ा विषय है। आज अशिक्षा देश की तरक्की में बहुत बड़ी बाधा है जिसके अभिशाप से गरीब और गरीब होता जा रहा है।
लोक समिति संयोजक नन्दलाल मास्टर ने कहा कि आजादी के समय देश की साक्षरता दर मात्र 12.5 फीसदी थी। यह अब बढ़कर 74 फीसदी हो गई है। हालांकि हम विश्व साक्षरता दर 85 फीसदी से बहुत पीछे हैं। विवि के प्रति कुलाधिपति डॉ. राजीव त्यागी ने कहा कि पिछले एक दशक में सर्वशिक्षा अभियान, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, मिड डे मील, प्रौढ़ शिक्षा जैसी शैक्षिक योजनाओं से साक्षरता दर 61 से बढ़कर 74 फीसदी हो गई है। अब हमें लिंग भेद, भ्रूण हत्या, बालश्रम जैसी कुरीतियों को कड़ाई से पूर्ण प्रतिबंधित कर बच्चों को स्कूल की ओर लेकर जाना होगा।
इस मौके पर सोनी,सीमा,मैनब बानो, बेबी,अनीता,सरोज,आशा, आरती,पूजा,मनजीता,अंजली, काजल,रोशनी, सोनम, ग्रामीण महिला पुरुष सहित सैकड़ों छात्र-छात्राएं शामिल थे। रैली का नेतृत्व सोनी,अध्यक्षता सीमा,स्वागत मैनब बानो और धन्यवाद बेबी पटेल ने किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here