More
    Homeजनपदतिरंगे झंडे को बेहतरीन डंडा भी नही दे पाए वनक्षेत्राधिकारी ड्रमंडगंज

    तिरंगे झंडे को बेहतरीन डंडा भी नही दे पाए वनक्षेत्राधिकारी ड्रमंडगंज

    रिपोर्टर सत्य देव प्रसाद द्विवेदी

    जश् ने आजादी के पर्व को ससम्मान ध्वजारोहण के साथ ,आजादी के लिए कुर्बान हुए अमर शहीद देशभक्तों को नमन् करने की संवैधानिक घोषित परंपरा रही है।वही आज के समय मे कुछ सरकारी ओहदे दार अधिकारी आदर्श श्रद्धा के वजाय महज फर्जअदायगी मात्र बन कर रह गया है।
    ऐसा जीता जागता क्षण वनक्षेत्राधिकारी ड्रमंडगंज वी के तिवारी के द्वारा देखने को मिला।ध्वजारोहण के लिए मानक के अनुसार न तो चबूतरा ही रहा, और न ही वह डंडा जिसके सहारे राष्टध्वज को फहराया जाना था।नये बने जायका के भवन पर दो चार अस्त व्यस्त ईटो के सहारे बक्रीय ढेढ़े अनुपयोगी डंडे मे ध्वज फहराने से ध्वज एक दिशा उत्तर की तरफ झुका हुआ फहराया गया। ध्वज संहिता के अनुसार ध्वज फहराने वाला डंडा अत्यंत सीधा लम्बा तिरंगे कलर का होने के साथ ही फहराने वाला स्थान भी सुन्दर तिरंगे कलर के साथ तीन सीढियों के चबूतरे का तिरंगा कलर मे हो,जैसा कि पूराने कार्यालय पर आज भी ध्वंसावशेष मौजूद है। वनक्षेत्राधिकारी ड्रमंडगंज की ध्वजा रोहण की कार्यप्रणाली महजफर्ज अदायगी से ज्यादा कुछ नहीं दिखा । जो कि जिम्मेदार राजपत्रित अधिकारी के लिहाज से राष्टध्वज के प्रति दुर्भाग्य पूर्ण मानी जा सकती। हालांकि वनक्षेत्राधिकारी के साथ ध्वजारोहण मे ज्यादातर स्टाफ मौजूद रहे।
    चौकी क्षेत्र ड्रमंडगंज मे चौकी प्रभारी भरत लाल पाण्डेय, उपनिरीक्षक अवधनरेश पाण्डेय के नेतृत्व मे ध्वजारोहण मानक के साथ ध्वजारोहण किया गया।इस मौके पर चौकी आरक्षीबल,पीएसी जवान सहित होमगार्ड, चौकीदार मौजूद रहे।
    न्यु प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र ड्रमंडगंज मे सेवा मुक्त स्वास्थ्य निरीक्षिका अमलेश देवी के द्वारा ध्वजारोहण किया गया।कार्यक्रम में लिलावती,रोज़न फार्मा सिस्ट,हिरावती,गीता सिंह अध्यक्ष आशा संघ, रिंकी आदि मौजूद रही। प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र प्रभारी मौजूद नही रहे।

    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments