More
    Homeजनपदपार्किंग शुल्क के नाम पर लखनिया दरी पर्यटन स्थल से पांच किलोमीटर...

    पार्किंग शुल्क के नाम पर लखनिया दरी पर्यटन स्थल से पांच किलोमीटर दूर की जा रही है अवैध वसूली

    स्थानीय लोगों में आक्रोश

    पुलिस का भी अवैध वसूली कर्ताओं को मिल रहा है भरपूर सहयोग

    अहरौरा, मिर्जापुर | क्षेत्र के अत्यंत ही मनोरम पर्यटन स्थल लखनिया दरी पर आने वाले पर्यटकों से लखनिया दरी पर्यटन स्थल से पांच किलोमीटर पहले ही सड़क पर रस्सी बात कर पार्किंग शुल्क के नाम पर अवैध वसूली की जा रही है ।
    जिससे आए दिन लोगों का विवाद अवैध वसूली करताओ से हो रहा है ।
    वसूली करने वालों को पुलिस का खुला समर्थन मिलने के कारण विरोध करने वाले लोग अपनी आवाज को बुलंद नहीं कर पा रहे हैं ।
    लेकिन लोगों में सत्ता एवं प्रशासन के खिलाफ आक्रोश बढ़ता जा रहा है ।

    वाराणसी शक्तिनगर रोड पर वाराणसी एवं सोनभद्र दोनों के मध्य में पढ़ने वाला अति मनोरम पर्यटन स्थल लिखनिया दरी में मौसम का लुफ्त उठाने एवं घूमने टहलने मौज मस्ती करने के लिए दूर-दूर से हजारों की संख्या में लोग आते हैं ।
    यहां आने वाली भारी भीड़ पर दबंग माफियाओं की नजर पड़ गई और वन विभाग द्वारा पार्किंग का अवैध ढंग से टेंडर करा लिया गया ।
    बिना कहीं भी पार्किंग स्थल बनाए ही लिखनिया दरी मुख्य पर्यटन स्थल से पांच किलोमीटर दूर लिखनिया दरी में प्रवेश करने वाले मुख्य सड़क पर ही रस्सी बांधकर ठेकेदार द्वारा दर्जन भर लोगों को लगा कर अवैध वसूली की जा रही है ।
    जिसका लोग जोरदार विरोध कर रहे हैं ।
    स्थानीय लोगों सहित लिखनिया दरी पर आने वाले पर्यटकों का कहना है कि लिखनिया दरी पर्यटन स्थल के पास पार्किंग बनाकर पार्किंग में खड़ी होने वाली गाड़ियों से वसूली किया जाए तो किसी को कोई आपत्ति नहीं होगी ।
    लेकिन पर्यटन स्थल से पांच किलोमीटर दूर वसूली करना कहीं से भी जायज नहीं है ।
    लोगों को लोगों का कहना है कि विकास के नाम पर लिखनिया दरी में तो कुछ नहीं किया गया लेकिन वसूली के नाम पर सबकी निगाहें लगी हुई है ।
    इसके पूर्व भी लिखनिया दरी स्थल पर जिला पंचायत के नाम पर वसूली की जाती थी ।
    लेकिन वह वसूली मामूली एवं पर्यटन स्थल पर ही होती थी जो लोग वहां अपना वाहन खड़ा करते थे केवल उन्हीं से पैसा लिया जाता था ।
    लेकिन वर्तमान ठेकेदार द्वारा मनमानी की सारी सीमाएं पार कर दी गई है और पर्यटन स्थल से काफी दूर मुख्य सड़क पर ही वसूली की जा रही है ।
    यही नहीं इन वसूली कर्ताओं को रोकने की बात कौन कहे स्थानीय पुलिस अपना पूरा सहयोग दे रही है ।
    अवैध वसूली के चलते पर्यटन स्थल पर लंबा जाम लग जा रहा है और लोग सड़क पर ही आड़े तिरछे गाड़ियां भी खड़ी कर रहे हैं जिससे लोगों को भारी परेशानी हो रही है ।
    अहरौरा नगरपालिका के सभासद एवं समाजसेवी युवा नेता सिद्धार्थ सिंह ने अधिकारियों का ध्यान आकर्षित करते हुए अवैध वसूली को तत्काल बंद करवाने की मांग किया है ।

    क्या कहते हैं जिम्मेदार

    लखनिया दरी से पांच किलोमीटर पहले ही सड़क पर रस्सी बात कर की जा रही वसूली के संबंध में सुकृत रेंज के रेंजर अनिल कुमार सिंह का कहना है कि अगर इस तरह से वसूली की जा रही है तो वह सरासर गलत है ।
    पार्किंग के लिए उनको स्थान चिन्हित किया गया है चिन्हित स्थान में खड़ी होने वाली गाड़ियों से ही वसूली कर सकते हैं ।
    अगर इस तरह की शिकायत मिलती है तो उनके ऊपर कड़ी कार्रवाई की जाएगी ।
    अनिल कुमार सिंह रेंजर सुकृत रेंज

    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments