डाकिया गांव-गांव पहुंचाएंगे सुकन्या योजना का संदेश

0
7

अब लोगों को घर बैठे मिलेगा योजना का लाभ

तारकेश्वर सिंह
चंदौली। जनपद में सुकन्या समृद्धि योजना को सफल बनाने के लिये अब डाक विभाग की मदद ली जाएगी। पोस्टमैन गांव-गांव जाकर लोगों को योजना का संदेश देंगे।बताते चलें कि पोस्टमैन गांव-गांव जाकर लोगों को योजना के बारे में विस्तार से जानकारी देंगे। बेटियों के प्रति लोगों की सोच बदलेंगे। बेटियों की सुरक्षा, पढ़ाई व शादी के लिए सरकार ने योजना शुरू की है।प्रचार-प्रसार के अभाव में लोगों को सुकन्या समृद्धि योजना का लाभ नहीं मिल पा रहा। डाकिया गांव-गांव पहुंचते हैं। उन्हें स्पीड पोस्ट, रजिस्ट्री व पार्सल के साथ ही सुकन्या योजना का संदेश पहुंचाने की भी जिम्मेदारी सौंपी गई है। शासन का मानना है कि इससे योजना को बल मिलेगा। अधिक से अधिक लोग योजना का लाभ लेकर बेटियों को पढ़ा-लिखाकर आत्मनिर्भर बनाएंगे, वहीं बेटियों को बोझ न मानकर बल्कि परिवार के एक अहम सदस्य के रूप में मान्यता मिलेगी।10 साल तक की आयु वाली बालिकाओं के लिए योजना संचालित की जा रही है। जिले में पांच तहसील और नौ ब्लाक हैं। अभी तक लगभग 10 हजार बालिकाओं को योजना से जोड़ा जा चुका है। हालांकि अभी भी काफी संख्या में बालिकाएं योजना से वंचित हैं। इसके पीछे सबसे बड़ा कारण, लोगों को योजना के बारे में जानकारी ही नहीं। ऐसे में सरकार ने डाक विभाग की मदद लेने की रणनीति बनाई है। डाकिया अब घर-घर जाकर लोगों को योजना के बारे में जागरूक करेंगे। वहीं इसके लिए पंजीकरण कराने के साथ ही खाता खुलवाएंगे। सुकन्या योजना का लाभ पाने के लिए बच्चियों के अभिभावकों को प्रधान डाकघर व उप डाकघरों का चक्कर नहीं लगाना पड़ेगा। गांव के ही शाखा डाकघर में इसका लाभ मिलेगा। गांव के पोस्टमैन घर पर ही फार्म भरकर खाता खोलेंगे। अभिभावकों की सहूलियत के लिए डाक विभाग ने यह कदम उठाया है। सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खाता 250 रुपये में खुलेगा। एक साल तक अधिकतम डेढ़ लाख रुपये जमा होगा। 14 साल तक यह पैसा जमा होगा। उसके सात साल बाद पूरा भुगतान होगा। 14 साल पूरा होने के बाद उसके चार साल बाद आधा पैसा खाताधारक ले सकती है। खास बात यह है कि खाते में न्यूनतम 250 रुपये व अधिकतम डेढ़ लाख रुपये प्रति साल जमा करने का प्रविधान है। 7.6 प्रतिशत ब्याज जोड़कर पैसे का पूरा भुगतान किया जाएगा। ‘ सुकन्या समृद्धि योजना से शत-प्रतिशत बालिकाओं को लाभान्वित करने के लिए पहल की जा रही है। डाकिया गांव-गांव जाकर लोगों को योजना का लाभ लेने के लिए प्रेरित करेंगे। खाता भी खुलवाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here