More
    Homeराजनीतिओमप्रकाश राजभर ने कहा- सीएम या डिप्टी सीएम बनाने पर भी नहीं...

    ओमप्रकाश राजभर ने कहा- सीएम या डिप्टी सीएम बनाने पर भी नहीं जाएंगे भाजपा के साथ

    अभिषेक त्रिपाठी/वाराणसी

    वाराणसी। सुभासपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व कैबिनेट मंत्री ओमप्रकाश राजभर ने बुधवार को भाजपा पर हमला बोला। वाराणसी के सर्किट हाउस में पत्रकारों से बात करते हुए सुभासपा प्रमुख ने कहा कि भाजपा अगर मुख्यमंत्री या उप मुख्यमंत्री भी बनाएगी तो भी उनके साथ नहीं जाऊंगा।
    उन्होंने भागीदारी संकल्प मोर्चा का जिक्र करते हुए कहा कि 10 बिरादरी के लोगों को लीडर बनाया है। मैं लीडर बनाता हूं। आगामी विधानसभा चुनाव में गठबंधन के मसले पर कहा कि  सपा और बसपा से भागीदारी संकल्प मोर्चा ने 100 सीट की मांग की है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हमने गठबंधन के लिए किसी पार्टी से संपर्क नही किया। हम सभी दल के नेताओ से मिलते रहते हैं।
    इसको गठबंधन से जोड़ कर नहीं देखना चाहिए। उन्होंने दोहराया कि 27 अक्तूबर को चुनाव की घोषणा करेंगे। उन्होंने दावा किया कि शिवपाल यादव हमारे साथ हैं। जहां जाएंगे भागीदारी संकल्प मोर्चे के साथ जाएंगे। सपा-बसपा और कांग्रेस के लिए दरवाजा खुला है। आगरा शराब कांड के लिए योगी सरकार को दोषी बताते हुए कहा कि प्रदेश में लाइन ऑर्डर फेल है। उन्होंने दावा किया कि हमारे सरकार बनेगी तो शराबबंदी करेंगे।  
    ओमप्रकाश राजभर ने पूर्व आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर के मसले पर कहा कि प्रदेश सरकार ने उन्हें नजरबंद कर गलत किया।  राजभर ने कहा कि भाजपा के दो दिग्गज नेता पहले अटल जी और दूसरे कल्याण सिंह का निधन हो गया। भगवान उनकी आत्मा को शांति दे।
    वहीं भाजपा द्वारा कल्याण सिंह का अस्थि कलश गंगा में विसर्जित करने की घोषणा के सवाल पर ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि यह भाजपा का विषय है और अच्छा काम है। बस उनकी अस्थि कलश यात्रा पर अटल जी की कलश यात्रा की तरह राजनीति न हो। 

     कुंभ मेला में भ्रष्टाचार का आरोप 
    सुभासपा प्रमुख ने प्रयागराज कुंभ मेला में भ्रष्टाचार का आरोप लगाया। उन्होंने कैग की रिपोर्ट का हवाला देते हुए कहा कि कई करोड़ के घोटाले की बात सामने आई है। उन्होंने इस मामले में सीबीआई जांच की मांग की। उज्ज्वला योजना पार्ट टू को उन्होंने लूट योजना करार दिया। इस योजना को उन्होंने विनाश की योजना बताया। ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि भाजपा को व्यापारी चला रहे हैं। पूरा देश और देश के लोग कर्ज से डूबे हैं। देश में इमरजेंसी जैसे हालात पैदा हो गए हैं। 

    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments