More
    Homeउत्तर प्रदेशAudio Threat Call To CM Yogi Adityanath, 15 को नहीं फहराने देंगे...

    Audio Threat Call To CM Yogi Adityanath, 15 को नहीं फहराने देंगे तिरंगा

    लखनऊ ; मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को खालिस्तान समर्थक ने बड़ी धमकी दी है। खालिस्तान समर्थक गुरपतवंत सिंह पन्नू ने धमकी दी है कि 15 अगस्त को सीएम योगी आदित्यनाथ को हम लखनऊ के विधानभवन पर झंडा नहीं फहराने देंगे। मीडियाकर्मियों को सीएम योगी आदित्यनाथ के लिए धमकी का ऑडियो भेजा गया है।

    भारत में प्रतिबंधित संगठन सिख फॉर जस्टिस के गुरपतवंत सिंह पन्नू ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के लिए धमकी वाला ऑडियो मीडियाकर्मियों के फोन पर डाल है। जिसमें कहा गया है कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को 15 अगस्त को लखनऊ विधानभवन पर झंडा नहीं फहराने देंगे। खालिस्तान समर्थक एवं सिख फॉर जस्टिस संगठन (एसएफजे) के नेता गुरपतवंत सिंह पन्नू ने यह धमकी गुरुवार को लखनऊ के पत्रकारों को +6478086308 इस नंबर से आई कॉल के माध्यम से दी। सिख फॉर जस्टिस गुट से जुड़े गुरपखवंत सिंह पन्नू ने कहा कि वो योगी आदित्यनाथ को 15 अगस्त पर तिरंगा नहीं फहराने देंगे। इससे पहले पन्नू ने भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा और हिमाचल के हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और पूर्व मुख्यमंत्री शांता कुमार को धमकी दी थी।

    लखनऊ के कुछ पत्रकारों को आई 59 सेंकेंड की रिकार्डेड कॉल में गुरपतवंत सिंह पन्नू ने कहा कि भाजपा, आरएसएस और पीएम मोदी किसानों के विरोध में हैं और सीएम योगी आदित्यानाथ उनका साथ दे रहे हैं। पन्नू ने मैसेज में कहा है कि यूपी के लोग और किसान यूपी सरकार को तिरंगा न फहराने दें। इतना ही नहीं टांडा, हरदुआगंज, पनकी, पारीछा और अन्य पावर प्लांट शटडाउन कर दें। आडियो संदेश में ये भी कहा गया है कि सहारनपुर से रामपुर तक एरिया खालिस्तान बन जाने के बाद अपने कब्जे में लिया जाएगा।

    इससे पहले पन्नू ने हिमाचल प्रदेश के सीएम जयराम ठाकुर को धमकी दी थी कि वह उन्हेंं 15 अगस्त को तिरंगा नहीं फहराने देगा। ऑडियो संदेश में ये भी कहा गया था कि पंजाब के बाद वह हिमाचल में भी कब्जा करेंगे, क्योंकि हिमाचल का कुछ क्षेत्र पहले पंजाब का हिस्सा था। सिख फॉर जस्टिस संगठन भारत में देश विरोधी गतिविधियां चलाने के आरोप में दस जुलाई, 2019 से प्रतिबंधित है। इसके बावजूद खालिस्तानी देश में शांति भंग करने के प्रयास में लगे हैं।  

    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments