सत्यनारायण सिंह खेल संस्थान की कुश्ती दंगल में भारत केसरी जोंटी दिल्ली भारत केसरी महिला सविता हरियाणा ने बाजी मारी

0
84

कछवा। श्री सत्यनारायण सिंह खेल विकास संस्थान द्वारा आयोजित दो दिवसीय कुश्ती दंगल के दूसरे दिन कुल 75 जोड़ी पहलवानों ने कुश्ती में जोर आजमाया। इस कार्यक्रम में मुख्य अतिथि डीआईजी आर के भरद्वाज ने कुश्ती के शिरोमणि रहे मंगला राय के मूर्ति पर माल्यार्पण किया।

पूर्व पुलिस महानिदेशक राम नारायण सिंह ने डीआईजी के सर पर साफा बांधकर व अंग वस्त्र देकर सम्मान किया।भरत केसरी जोंटी दिल्ली और राजेश भाटी सीआईएसफ के बीच खेला गया जिसमें जोंटी दिल्ली ने दोहरी पट दाव व भारद्वाज दाव मारकर भारत केसरी का खीताब अपने नाम कर लिया। वहीं भारत केसरी की महिला में कुश्ती सविता हरियाणा व वर्षा राजे कछवा मिर्जापुर के बीच हुआ जिसमें सविता हरियाणा ने भारत केसरी का खिताब अपने नाम किया ।भारत कुमार के लिए प्रवीण राणा रेलवे और अर्जुन डीएलडब्ल्यू के बीच कुश्ती का मुकाबला हुआ। जिसमें प्रवीण राणा ने दोहरी पट दाव मारकर 18 सेकंड 6 पॉइंट अपने नाम किया। इसके बाद अर्जुन ने भी निकाल दाव मारकर 22 सेकंड में 4 पॉइंट अपने नाम किया। पर प्रवीण राणा ने 26 सेकंड में ही 18 पॉइंट अपने नाम कर भारत कुमार का खिताब जीत  हासिल कर लिया।

भरत कुमारी महिला में साक्षी उत्तर प्रदेश पुलिस और अंजू गुप्ता कछवा के बीच हुआ जिसमें उत्तर प्रदेश पुलिस की साक्षी ने 22 अंक प्राप्त कर भारत कुमारी का खिताब अपने नाम किया।

खिलाड़ियों की प्रतिभा देखने के लिए श्री सत्य नरायण सिंह खेल संस्थान में उमड़ी भीड़

कछवा। श्री सत्यनारायण सिंह खेल संस्थान द्वारा दो दिवसीय कुश्ती दंगल का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें रेलवे के राष्ट्रीय खिलाड़ी उत्तर प्रदेश पुलिस विभाग के राष्ट्रीय खिलाड़ी और रेलवे की तरफ से ओलम्पियाड खिलाड़ी भाग ले रहे हैं। रेलवे विभाग की तरफ से खेल रहे किशन कुमार उत्तर प्रदेश ने बताया कि पापा रामू सिंह मिट्टी वाले अखाड़े के पहलवान हैं और 1992 में उत्तर प्रदेश केशरी भी रह चुके हैं। अपने पिता की प्रेरणा से ही कुश्ती लड़ना सीखा और 2011 में सीनियर नेशनल पार्टिसिपेट किया और डीएलडब्लू रेलवे की तरफ से दो बार 2017,18 में दो बार केसरी सम्मान से सम्मानित हुआ और मुझे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सम्मानित किया।
उत्तर प्रदेश पुलिस की तरफ से फिरे नागर ने बताया कि ऑनलाइन मैच मिट्टी वाले खड़े से कुश्ती लड़ रहा था तभी से मुझे कुश्ती लड़ने की इच्छा जाहिर हुई मेरे पिता की किसान थे। मैं दिल्ली के गुरु जयराम अखाड़ा में प्रैक्टिस किया और वहीं से 2011 में नेशनल मेडल जीता। उसके बाद नेशनल पार्टिसिपेट किया। 2013 में नेशनल गोल्ड जीता।

 

उत्तर प्रदेश की पुलिस विभाग की तरफ से खेल रही नीलम तोमर ने बताया कि मेरी मम्मी रश्मि देवी रेसलर थी। 2008 में स्टार्ट किया जिसके बाद 2008, 2009, 2010, 2011 में नेशनल चैंपियनशिप रही। सीनियर में भी 2013, 14 और 16 में उत्तर प्रदेश पुलिस की तरफ से मैंने नेशनल मेडल जीता। मैं गांव से ही अपने गुरु रघुनाथ राणा समिति के अखाड़े पर कुश्ती लड़ रही थी 2014 में मेरठ में गोल्ड मेडलिस्ट में हुई।

उत्तर प्रदेश पुलिस की तरफ से साक्षी शर्मा बताया कि मेरे पापा अनिरुद्ध शर्मा उत्तर प्रदेश पुलिस में मेरे कद काठी से उनको ऐसा लगा कि मैं रेसलिंग कर सकती हूं तो 2010 में मैंने प्रारंभ कर दिया मेरठ में और 10 बार स्टेट लेवल नेशनल में चैंपियन रही। 2018 में उत्तर प्रदेश पुलिस में सिलेक्ट हो गई तब से मैं उत्तर प्रदेश पुलिस की तरफ से खेल रही हूं।

125 किलो भार वर्ग से 45 किलो भार वर्ग के खिलाड़ियों ने कुश्ती दंगल में लिया भाग

कछवा। श्री सत्यनारायण सिंह खेल संस्थान द्वारा दो दिवसीय कुश्ती दंगल का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें दूर-दूर से आए खिलाड़ी बुधवार को सुबह 8:00 बजे ही श्री सतनारायण शिक्षण संस्थान के प्रांगण में पहुंच गए और अपना धार वजन कराना प्रारंभ कर दिए। धार वजन कराने के लिए खिलाड़ियों में लंबी-लंबी लाइनें लग गई। जिसे 125 भार वर्ग के खिलाड़ी, पच्चासी भार वर्ग के खिलाड़ी, 71 किलो भार वर्ग के खिलाड़ी, 65 किलो भार वर्ग के खिलाड़ी, 51 किलो भार वर्ग के खिलाड़ी, 45 किलो भार वर्ग के खिलाड़ियों में भाग लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here