विधिक राय में मुरादाबाद अभियोजन और पुलिस को प्रथम स्थान पाने पर गृह मंत्रालय से मिला सम्मान

0
30

मुरादाबाद अभियोजन और पुलिस को ऑन लाइन विधिक राय प्रदान करने में देश में मिला पहला स्थान, गृह मंत्रालय ने दी ट्रॉफी
लखनऊ(आरएनएस)। भारत सरकार ने आई. सी. जे. एस. के तहत फीडिंग में पूरे देश में पहले स्थान पर उत्तर प्रदेश के अभियोजन विभाग को ट्राफी और प्रशासित पत्र देकर सम्मानित किया। इस मौके पर अपर पुलिस महानिदेशक आशुतोष पाण्डेय ने यह ट्रॉफी पूरे प्रदेश के अभियोजको को समर्पित की। बता दे ई-प्रॉसीक्यूशन पोर्टल पर 60 लाख से ज्यादा प्रविष्टियों के दर्ज होने के साथ पूरे देश में उत्तर प्रदेश शीर्ष स्थान पर है। वहीं 17 लाख प्रविष्टियों के साथ मध्य प्रदेश दुसरे स्थान पर है और 4 लाख प्रविष्टियों के साथ गुजरात तीसरे स्थान पर हैं।
इसी क्रम में ट्राफी आज जनपद मुरादाबाद पहुची। जनपद मुरादाबाद ने ई-प्रॉसीक्यूशन पोर्टल पर 2 लाख से ज्यादा फीडिंग कर प्रदेश में तीसरा स्थान प्राप्त किया हैं, जबकि ऑन लाइन विधिक अभिमत में 38000/- से ज्यादा विधिक अभिमत सी. सी. टी. एन. एस. पोर्टल पर देकर प्रदेश और देश में पहला स्थान प्राप्त किया। ऐसे में इस मौके पर अभियोजकों के साथ जिला मजिस्ट्रेट शैलेन्द्र कुमार सिंह और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने ख़ुशी साझा कर बधाई दी। जिला मजिस्ट्रेट शैलेन्द्र कुमार सिंह ने इसकी सत्त मॉनिटरिंग की और मुरादाबाद को इस मुकाम पर पहुचाया। ऑन लाइन विधिक अभिमत लेने और देने के मामले में मुरादाबाद पुलिस अभियोजन पूरे देश में पहले स्थान पर है। इसका श्रेय बबलू कुमार, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मुरादाबाद को जाता है, जिन्होंने ऑन लाइन विधिक राय प्राप्त करने के लिए लगातार सी. सी. टी. एन. एस. प्रभारियों को दिशा-निर्देश दिया और खुद इसकी मॉनिटरिंग व्यक्तिगत रूप से की, कि बिना विधिक अभिमत प्राप्त किये भी चार्जशीट न्यायालय में दाखिल न हो। आज मुरादाबाद पूरे प्रदेश का एकमात्र जनपद हैं जहां ऑन लाइन/ऑफ़ लाइन विधिक राय लेने के बाद ही न्यायलयों में आरोप पत्र प्रेषित किया जाता हैं जिसका पूरा श्रेय वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, मुरादाबाद को जाता हैं।
अपर पुलिस महानिदेशक अभियोजन ने संयुक्त निदेशक अभियोजन राजेश शुक्ला, वरिष्ठ अभियोजन अधिकारीगणदिनेश कुमार द्विवेदी, जे. पी. मिश्रा व शहला समी,अभियोजन अधिकारी अमरनाथ तिवारी, सहायक अभियोजन अधिकारीगण ब्रह्ममूर्ती यादव, संजीव कुमार, शैलेश शेखर, मनोज कुमार त्यागी, यतीन्द्र कुमार त्रिपाठी, पवन कुमार पाण्डेय, कविता रानी, वीरपाल सिंह, दीपक कुमार को इसके लिए बधाई दी और ई-प्रॉसीक्यूशन पोर्टल पर सर्वश्रेष्ठ कार्य करने वाले पांच अभियोजको को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here