विधानसभा चुनाव 2022 को लेकर जिलाधिकारी ने विभिन्न पार्टियों के प्रभारियों के संग किया बैठक, दिए निर्देश।

0
24

गाजीपुर। विधान सभा सामान्य निर्वाचन 2022 को सकुशल , निष्पक्ष, एवं शान्तिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराये जाने के उद्देश्य से तथा निर्वाचन सम्बन्धित विविध कार्यो को समयबद्ध एवं सुचारू रूप से सम्पन्न कराये जाने एवं भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशो का शत-प्रतिशत अनुपालन सुनिश्चित कराये जाने हेतु रिटर्निग आफिसर एवं सहायक रिटर्निग आफिसर तथा जनपद के समस्त प्रभारी अधिकारियों संग बैठक जिला निर्वाचन अधिकारी एम पी सिंह की अध्यक्षता में राइफल क्लब सभागार में सम्पन्न हुआ। बैठक में जिला निर्वाचन अधिकारी ने प्रभारी अधिकारियो से प्रेक्षक व्यवस्था, आचार संहिता अनुपालन, संवेदनशील एवं अति संवेदनशील बूथ की जानकारी, नामांकन एवं मतगणना में टेन्ट व्यवस्था, नामांकन पूर्वाभ्यास, पार्टी डिस्पैच एवं रिसप्शन की व्यवस्था, वाहन व्यवस्था, ए एम एफ, वी एस टी, वी वी टी, एच एम टी, एस एस टी तथा ए टी आदि मानिटरिंग टीम के गठन एवं उनके कार्यो के पर्यवेक्षण की जानकारी, जनपद मुख्यालय एंव विधान सभावार बनाये जाने वाले कन्ट्रोल रूम जिसममे काल सेन्टर, शिकायत एवं सन्दर्भ प्रकरण से सम्बन्धित शिकायत दर्ज हो की जानकारी, डाक मतपत्र/इ डी सी, मतपत्र व्यवस्था, वेबकास्टिंग तथा सी सी टी वी कैमरे की व्यवस्था, निर्वाचन व्यय लेखा, निर्वाचन लेखन समाग्री/प्रपत्र व्यवस्था, खान पान व्यवस्था, स्वीप , दिव्यांग मतदाताओं से सम्बन्धित व्यवस्था, रूट चाट, कम्युनिकेशन प्लान, विद्युत प्रकाश, पेय जल, साफ-सफाई , दूरभाष व्यवस्था, सूचना प्राप्ति-प्रेषण तथा कोविड-19 हेल्प डेक्स व्यवस्था हेतु अब तक कराये गये कार्यों की विस्तारपूर्वक समीक्षा की तथा शेष कार्य जो किये जाने है उसे अविलम्ब पूर्ण कराने का निर्देश सम्बन्धित प्रभारी अधिकारियों को दिया। उन्होने कहा कि समस्त कार्यो को भारत निर्वाचन आयोग द्वारा निर्गत आदेशो के अन्तर्गत नियमानुसार नियत तिथियों तक अवश्य पूर्ण करा लिया जाये जिसका समस्त उत्तरदायित्व सम्बन्धित प्रभारी अधिकारी का होगा। अपर प्रभारी अधिकारी प्रभारी अधिकारी के कार्यो हेतु समान रूप से उत्तरदायी होगें तथा कार्यों को समय-समय पर मुझे अवगत भी कराते रहेगे। जिला निर्वाचन अधिकारी ने निर्देश दिया कोई भी मतदान केन्द्र सरकारी भवन के अतिरिक्त अन्यत्र किसी प्राईवेट विद्यालय में बनाये गये है तो उससे सहमति पत्र लेते हुए अधिग्रहण कर लिया जाये। उन्होने मतदान केन्द्र पर विद्युत, साफ-सफाई, आने जाने वाले रास्ते की मरम्मत, पेयजल की व्यवस्था,शौचालय, रैंप, सी सी टी वी कैमरे लगाने, वेवकास्टिंग कराये जाने सम्बन्धित कार्य पूर्व में सुनिश्चित करने का निर्देश दिया अन्यथा बाद में किसी भी विधानसभा में अगर किसी भी प्रकार की कमियां पायी गयी तथा भारत निर्वाचन आयोग के गाईड लाईन के विपरीत कार्य पाये गये तो सम्बन्धित प्रभारी अधिकारी जिम्मेदार होते हुए दण्ड के पात्र होगे। उन्होने सहायक अभियन्ता लोक निर्माण विभाग को मतदान केन्द्रो तक जाने वाले रास्ते जो जर्जर अवस्था में है उन्हे अविलम्ब सही कराने का निर्देश दियां। अधीशासी अभियन्ता जल निगम को निरीक्षण गृह के सामने वाले रोड तथा पी जी कालेज से लेकर दुर्गा मंदिर तक के रोड को 10 फरवरी के अन्दर सही कराने तथा निर्वाचन तक सीवर का कार्य बन्द कराने को कहा। उन्होने कहा कि जिन-जिन विधान सभाओ में मतदेय स्थल नये भवनो में बने है वहा मतदान केन्द्र का नाम व संख्या अवश्य अंकित कराया जाये इसके लिए समस्त खण्ड विकास अधिकारी अपने-अपने क्षेत्रो मे लेखपाल एंव बी एल ओ के माध्यम से रिपोर्ट लेकर पूर्व में ही निरीक्षण कर लेगे। उन्होने प्रत्येक विधान सभा में 05-05 मॉडर्न पोलिंग सेन्टर बनाने का निर्देश समस्त रिटर्निग आफिसर को दिया जिसमें एक सेल्फि प्वाईट बनाते हुए मेन गेट पर एक स्वागतकर्मी की तैनाती की जाये। प्रत्येक मतदेय सेन्टर पर मतदान कर्मियो हो भोजन हेतु एक-एक रसोइयां की ड्यूटि लिखित रूप से देने का निर्देश दिया। उन्होने मतदान केन्द्र के 200 मीटर की परिधि में किसी प्रकार की संदिग्ध वस्तु, प्रचार समाग्री जैसे बैनर,पोस्टर, वाल राइटिंग तथा होर्डिग मौजूद है तो उसे चिहिन्त करते हुए तत्काल हटवाया जाये। बैठक में उन्होने मतदान कर्मियों को मतदेय स्थल पर ले जाने हेतु लगाये गये भारी वाहनो, लघु वाहनो की जानकारी ली तथा सम्बन्धित अधिकारी से समस्त वाहनो के रूट चार्ट, लेआउट बनाकर 07 फरवरी के पूर्व प्रस्तुत करने तथा इसके पूर्व स्थान व पार्किग की व्यवस्था सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। पार्टी रवानगी स्थल पर पेयजल, शौचालय, जलपान हेतु दुकानो की व्यवस्था के साथ प्रत्येक रवानगी स्थल पर एक-एक एम्बुलेंस मे चिकित्सक, मेडिकल स्टाफ फस्टएड बाक्स के साथ मोजूद रहेगे। उन्होने निर्वाचन सम्बन्धी सूचनाओ का आदान प्रदान हेतु जनपद मुख्यालय पर जिला निर्वाचन कार्यालय में एक एवं विधानसभावार एक-एक कन्ट्रोल रूम स्थापित करने का निर्देश दिया ।बैठक में मुख्य विकास अधिकारी/कार्मिक नियुक्ति श्री प्रकाश गुप्ता, उप जिला निर्वाचन अधिकारी अरूण कुमार सिंह, मुख्य राजस्व अधिकारी सुशील लाल श्रीवास्तव, ज्वाईट मजिस्ट्रेट पवन कुमार मीणा, डी एफ ओ प्रदीप कुमार, तथा समस्त रिटर्निग आफिसर/सहायक रिटर्निग आफिसर उपस्थित थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here