रक्षाबंधन पर अपने हाथों से बनी राखियां भाईयों के कलाई पर बांधेगी बहने

0
48

अब भाइयों की कलाई पर सजेगा बहनों द्वारा बनाई राखी

रोहनिया l भाई-बहन के प्रेम विश्वास और रक्षा के संकल्प का त्योहार रक्षाबंधन आने वाला है इसी के मद्देनजर ग्रामीण क्षेत्रो के अलग अलग हिस्सों में रंग-बिरंगी राखियां आने लगी है l और वही दूसरी तरफ बुद्धवार को राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के द्वारा आयोजित किये गए कार्यक्रम में काशी विद्यापीठ ब्लॉक अंतर्गत खनांव ग्राम पंचायत में स्वयं सेवी संस्था रुद्राक्ष जन कल्याण विकास सेवा संस्था के सदस्यों द्वारा समूह की महिलाओं को रक्षा बन्धन बनाने के लिए सिखाया गया l सेवा संस्थान के सदस्य शुभम बिंद , सीमा व संगीता द्वारा लक्ष्मी स्वयं सहायता समूह को भिन्न भिन्न अलग प्रकार की राखियां बनाने के लिए प्रशिक्षण दिया
और समुह की महिलाएं पूरी मन लगाकर राखियां बनाने में जुटी हुई हैं ग्रामीण महिलाये खास तौर पर मोती, रत्न, ऊन और धागे अलग अलग प्रकार के खिलौनों सहित रंग रोगनो का इस्तेमाल कर रही है l ब्लाक मिशन मैनेजर प्रियंका ने बताया कि इस वर्ष विशेषकर कोरोना महामारी से बचाव का संदेश देने वाली राखी जैसे कोरोना वायरस राखी, मास्को वाली,तिरंगा राखी मल्टीकलर , मोतियों की राखी इत्यादि राखियो का प्रशिक्षण दिया गया और देखा जाय तो राखी बनाना सीखने से महिलाओं को हुनर के साथ साथ रोजगार में वृद्धि होगी जिससे महिलायें बाजार में राखी के त्योहार पर बाजार में राखी बेच सकेंगी ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here