मिहींपुरवा के पटाखा बाजार में लगी भीषण आग ।

0
111
  1. जिला संवादाता बहराइच जयप्रकाश
  2. कई पटाखा दुकानें पूरी तरह जल कर राख।एक बाइक व एक ठेलिया भी राख

 

मोतीपुर में होती फायर ब्रिगेड तो नहीं होता इतना बड़ा हादसा। घंटो सुनायी देता रहा पटाखो का शोर।

 

उपजिलाधिकारी मिहींपुरवा व मोतीपुरपुलिस टीम ने दिखायी सक्रियता।

 

 

 

 

 

मिहींपुरवा/बहराइच- तहसील मिहींपुरवा अन्तर्गत मिहींपुरवा कस्बे की  मुख्य बाजार में स्थित पटाखा बाजार में सायं करीब 4 बजे अज्ञात कारणों से भीषण आग लग गई ।आग इतनी भयावह थी कि देखते ही देखते कुछ देर में पंद्रह पटाखों की दुकानें पूरी तरह जलकर राख हो गईं। शाम करीब 4 बजे अचानक कस्बे वासियों को पटाखा दगने की आवाज सुनायी पड़ी देखते ही देखते आसमान में धुआं छा गया। बाजार के सभी लोग भाग के पटाखा बाजार पहुंचे तब तक आग ने सभी दुकानो को आग ने अपने आगोश में ले चुकी थी। आग से 15 दुकाने एक मोटर साइकिल, एक ठेलिया तथा टेंट की दर्जनो मेज समेत लाखो की सम्पत्ति पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गयी।

आग की खबर पाकर उपजिलाधिकारी मिहींपुरवा ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी थानाध्यक्ष मोतीपुर बृजानन्द सिंह अपनी पुलिस टीम के साथ तत्काल मौके पर पहुंच गये ।

आग से मिहींपुरवा निवासी गण गौरी शंकर पुत्र गुरु प्रसाद, रमेश सोनी पुत्र मयाराम सोनी, साहिल पुत्र अब्दुल, छोटे लाल पुत्र हीरालाल,

आलोक जयसवाल पुत्र मंगली प्रसाद, पंकज जयसवाल मंगली प्रसाद, धन्नजय मदेशिया पुत्र मुरली धर मदेशिया, उमंग मदेशिया श्री निवास, मुन्ना पुत्र शकील, विक्की मौर्या  पुत्र योगेन्द्र प्रसाद, नीरज मदेशिया पुत्र अज्ञात ,राम लाल पुत्र अज्ञात, संतोष पुत्र अज्ञात समेत 15 दुकाने जल कर राख हो गयी।

 

आग की खबर पाकर ब्लाक प्रमुख मिहींपुरवा सौरभ वर्मा भी मौके पर पहुंचे उन्होंने व्यापारियों के साथ मिलकर आग बुझाने का प्रयास किया तथा पटाखा व्यवसायियों को धैर्य रखने की बात करते हुये हर सम्भव मदद दिलाने की बात कही।

 

अज्ञात कारणों से लगी आग किंतु बीड़ी सिगरेट पीकर फेंकने से भी आग लगने की संभावना की है आशंका।

 

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि अज्ञात कारणों से आग लगी है किंतु मौके पर मौजूद कुछ लोगो ने बताया कि यह भीषण अग्निकांड सिगरेट या बीड़ी पीकर फेकने से भी होने की संभावना दिख रही है

 

मोतीपुर में होती फायर ब्रिगेड तो नहीं होता इतना बड़ा हादसा

 

पटाखा बाजार में आग लगने के करीब डेढ़ घंटे बाद पहुंची फायर ब्रिगेड ने बची खुची आग बुझा कर स्थिति को पूरी तरह अपने में नियंत्रण में लिया। लोगों का कहना था कि यदि फायर ब्रिगेड स्टेशन मोतीपुर थाने में स्थापित हो जाए तो किसी भी आपात स्थिति को और भी बेहतर ढंग से निपटा जा सकता है

 

उपजिलाधिकारी मिहींपुरवा व मोतीपुर पुलिस टीम ने दिखायी सक्रियता

 

आग लगने के तुरंत बाद घटना स्थल पर हजारो की भीड़ जमा हो गयी। उपजिलाधिकारी मोतीपुर ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी एवं थानाध्यक्ष मोतीपुर बृजानन्द सिंह की पुलिस टीम भी मौके पर पहुंच गई। एसडीएम ने हालात को देखते हुये लोगो से संवाद किया, पटाखा व्यवसायियों से संवेदना प्रकट कर स्थिति को अपने नियंत्रण में लिया। मोतीपुर पुलिस टीम ने भीड़ पर नियंत्रण रखते हुये किसी तरह की भगदड़ नही होने दी।

इस मौके पर उपजिलाधिकारी मिहींपुरवा ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी, ब्लाक प्रमुख सौरभ वर्मा, एसएचओ मोतीपुर बृजानंद सिंह, दरोगा रवींद्र कुमार दरोगा राम अशीष यादव, अजय शुक्ला, प्रमोद कुमार सिंह , मस्तराम शर्मा अभिषेक दिवेदी समेत  कस्बे के काफी लोग मौजूद रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here