More
    Homeजनपदमरीजों से अवैध वसूली का अड्डा बना सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नानपारा

    मरीजों से अवैध वसूली का अड्डा बना सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र नानपारा

    मनमोहन तिवारी

    प्रसव के नाम पर गरीबों से वसूले जाते है 700 से लेकर 1500 रुपये तक.
    नही देने पर हाथ तक नही लगाते धरती के भगवान बने डॉक्टर.
    गर्भपात हुई महिला से इलाज के नाम पर मांगे गए 1500 रुपये.
    पीड़ित का आरोप बिना पैसा दिए हाथ तक नही लगाते है डॉ.
    गरीब मज़दूर ने 700 रुपये दिए तब जाकर हुआ इलाज.
    भर्ती महिलाओं ने बयां की अवैध वसूली की काली कहानी.
    किसी से 1000 तो किसी से 700 रुपये वसूले गए.
    अवैध वसूली के साथ बाहर की दवाएं लिखकर गरीबों का खून चूस रहा सीएचसी नानपारा का मेडिकल स्टाफ.
    सीएचसी अधीक्षक डॉ चंद्रभान की नाक के नीचे फलफूल रहा अवैध वसूली का गोरखधंधा.
    महिला डॉक्टर डॉ मीनाक्षी के नाम अवैध वसूली के पहले भी लग चुके है आरोप.
    लगातार सामने आ रहे अवैध वसूली के मामलों पर भी सीएमओ द्वारा नही हुई आजतक कोई कार्रवाई.
    नानपारा की गरीब जनता के लिए नासूर बना अवैध वसूली का काला धंधा.
    यह शिकायत ग्राम गुलालपुरवा दाखिली भोपतपुर बेतवा निवासी कृष्ण कुमार पुत्र निरहू ने अधीक्षक को करते हुए बताया कि उसकी पत्नी आरती देवी के पेट में बच्चा था जो उसी मे मर गया एक सप्ताह तक के बाद जब तकलीफ बढ़ी तों 10/08/21 को वह सी0एस0सी नानपारा लाया जहाॅ पर लगे दलाल पहले तो भर्ती होने नहीं दे रहे थे
    प्राइवेट इलाज के लिए कह रहे थे फिर जब कृष्ण कुमार ने अपनी मजबूरी बताई कि वह मजदूर है तब भर्ती किया अब इलाज शुरू करने के लिए पैसे की माॅग
    इस सम्बन्ध में अधीक्षक डा0 चन्द्रभान का कहना है कि शिकायत मिली है जाॅच की जा रही है। कठोर कार्यवाही की जायेगी।

    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments