More
    Homeअपराधभ्रष्टाचार के आरोपी टी ए के आगे झुका प्रशासन सुबह तबादला शाम...

    भ्रष्टाचार के आरोपी टी ए के आगे झुका प्रशासन सुबह तबादला शाम को स्थगित

    ग्राम प्रधानों ने शिकायती पत्र देकर कहा स्थानीय ब्लाक दोहरीघाट के सटे गांव गोंठा का होने के कारण बीडीओ एवं अन्य कर्मचारियों से मिलीभगत करके दबंगई से वसूलते हैं पैसा।

    स्थानीय मंत्री दारा सिंह चौहान पर ट्रांसफर रुकवाने का लगाया आरोप। कहा विधानसभा चुनाव में इनके खिलाफ खोला जाएगा मोर्चा

    दोहरीघाट (मऊ) दोहरीघाट ब्लाक में इन दिनों भ्रष्टाचार अपने चरम पर है बिना पैसा लिए किसी भी सरकारी योजना का काम नहीं हो रहा है।यह आरोप अपने शिकायती पत्र के माध्यम से ब्लाक के विभिन्न ग्राम प्रधानों ने ब्लाक में तैनात टी ए संजय राय पर लगाया है, अपने शिकायती पत्र में कहा कि उक्त अधिकारी ब्लाक के बी०डी०ओ० एवं अन्य कर्मचारियों को मिलाकर खुलेआम पैसा मांगता है।न देने पर एम बी न करने की चेतावनी देता है। बताते चलें कि उक्त टी ए ब्लाक के सटे गांव गोंठा का रहने वाला है।जो कि इसकी पोस्टिंग ही असंवैधानिक है।आरोप है कि अपने ही ब्लाक में रहने के कारण यह दबंगई करते हैं।इसी शिकायत के आधार पर शनिवार को सुबह उपायुक्त श्रम एवं सी डी ओ मऊ ने मामले की गंभीरता को संज्ञान में लेते हुए तत्काल प्रभाव से घोसी ब्लाक के लिए स्थानांतरित कर दिया। परंतु टी ए ने अपने रसूख की बदौलत शाम तक ही अपना ट्रांसफर रुकवा लिया। बताते हैं कि ब्लाक प्रमुखी चुनाव में हुई गोलबंदी के बाद स्थानीय विधायक एवं मंत्री दारा सिंह के खेमे के लोग ब्लाक पर अपना प्रभुत्व कायम रखने के लिए अपने हिसाब से अधिकारियों की पोस्टिंग कराकर भ्रष्टाचार फैलाने में मदद कर रहे हैं।सूत्र बताते हैं कि इस मामले को भाजपा संगठन के एक बड़े नेता ने संज्ञान में लेते हुए इसकी जांच एवं शिकायत सीडीओ से किया था जिसके बाद तत्काल टी ए का ट्रांसफर हो गया। परंतु मात्र 6घंटे में ही अपना ट्रांसफर रुकवाना आसान बात नहीं है। प्रधानों ने आरोप लगाया कि यह काम स्थानीय मंत्री ने किया है और जनपद के आला अधिकारी पर दबाव बनाकर ट्रांसफर रुकवा दिया है।इस मामले पर प्रधान संगठन ने नाराजगी जाहिर करते हुए विधानसभा चुनाव में उक्त मंत्री के खिलाफ मोर्चा बंदी करने का मन बना लिया है। तथा साफ किया है कि ऐसे भ्रष्ट अधिकारियों के साथ काम करना नामुमकिन है। स्थानीय ब्लाक के विभिन्न ग्राम प्रधानों ने अपने पैड पर इससे संबंधित शिकायत की है तथा आगे आंदोलन करने का मन बना लिया है।इस मामले को लेकर ब्लाक गांव-गांव में चर्चा का विषय बना हुआ है।कुछ पार्टी के स्थानीय नेता का कहना है कि स्थानीय विधायक एवं मंत्री दारा सिंह चौहान को गुमराह करके उनके लोग ग़लत काम करवा रहें हैं जो न तो मंत्री हित में है न तो पार्टी हित में है।

    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments