More
    Homeजनपदभारतीय किसान यूनियन उत्तर प्रदेश आराजनैतिक संगठन की ओर से एसडीएम कैसरगंज...

    भारतीय किसान यूनियन उत्तर प्रदेश आराजनैतिक संगठन की ओर से एसडीएम कैसरगंज को सौंपा ज्ञापन

    मनमोहन तिवारी ब्यूरो चीफ बहराइच

    कैसरगंज/बहराइच जनपद के कैसरगंज तहसील क्षेत्र की भारी समस्याओं को लेकर भारतीय किसान यूनियन उत्तर प्रदेश आराजनैतिक संगठन के जिला अध्यक्ष ओमप्रकाश वर्मा की अध्यक्षता में बुधवार के दिन किसानों ने क्षेत्र की समस्याओं के समर्थन में सात सूत्रीय ज्ञापन उपजिलाधिकारी कैसरगंज महेश कुमार कैथल को सौंपा है।जिसमें ग्राम सभा चहलार में आवारा पशुओं के आतंक चरम सीमा पर है तथा किसानों की फसलों को काफी नुकसान हुआ है तथा गौशाले के लिए महोदय को तीन बार लिखित ज्ञापन भी दिया जा चुका है। व आवारा पशुओं को पकड़वा कर किसी नजदीकी गौशाले में छुड़वाने की व्यवस्था व शासन की मंशा के अनुसार किसी भी गांँव में एक भी आवारा पशु घूमते हुए नजर आते हैं, तो उस ग्राम प्रधान व ग्राम विकास अधिकारी के खिलाफ कानूनी कार्यवाही करने का आदेश पारित किया जा चूका है।लेकिन आज तक किसी भी ग्राम प्रधान ग्राम विकास अधिकारी के खिलाफ कोई कानूनी कार्यवाही नहीं की गई है, जिस पर किसानों ने कार्यवाही की मांग की है,उपरोक्त ज्ञापन के क्रम में दिनांक 15 मार्च 2021 प्रताँक सं.13 का अवलोकन करते हुए मांग पत्र बिन्दु संख्या पांच व बिन्दु संख्या 3 के निराकरण आपके द्वारा कराए जाने का आश्वासन दिया गया था।जिसके बाद लगभग 5 महीने बीत जाने के बाद भी ज्ञापन में दिए गए दो बिंदुओं में से एक भी बिंदु का निस्तारण आपके द्वारा नहीं किया कराया गया है।जिस लेकर भारतीय किसान यूनियन के लोगों ने सभी बिन्दुओं का निस्तारण कराएं जाने की माँग की है।इसी ज्ञापन के क्रम में ग्राम सभा बदरौली के संत्रीदास कुट्टी के महंत पुरवा में काफी किसानों के पास विधुत कनेक्शन हैं।वहां का ट्रांसफार्मर जल गया है लगभग एक माह से विद्युत सप्लाई नहीं हो पा रही है वहाँ के किसानों ने तत्काल ट्रांसफर बदलवाने जाने की भी मांग की है इसी के क्रम में ग्रामसभा कहरई में जहां भी खम्भा व तार नहीं लगे हुये हैं उनकी जांच करवा कर खंभे व तार की व्यवस्था कराये की मांग की है ।व सरकारी समिति खारोपुर में इस बर्ष गेहूं खरीददारी में घोर अनियमितायें वहाँ के सचिव द्वारा किया जा रहा है। जिसके बारे में प्रशासन को जांच के लिए अवगत कराया गया था, परन्तु अभी तक सचिव के खिलाफ कोई कार्यवाही नहीं की गयी है और ना ही कोई जांच की गई है दिए गए ज्ञापन में किसानों ने यह भी लिखा है कि इस बार खरीफ की बुवाई में सचिव संघन सरकारी समिति द्वारा किसानों को कोई भी खाद नहीं मिली है और ना ही खाद का वितरण किया गया है खाद लाने के बाद किसी अन्य जगह रखकर खाद को बेच दिया गया है तथा खरीफ की बुवाई में जितनी भी खाद उत्तर प्रदेश शासन के द्वारा समित पर भेजी गई है उसकी लिस्ट व किसानों की सूची उपलब्ध कराये जाने की माँग की है।और इसी ज्ञापन में खाद्यान्न वितरण गोदाम कैसरगंज व जरवल कस्बा के स्पेक्टर सहित गोदाम प्रभारियों की मिलीभगत होने से कोटेदारों को खाद्यान्न कम मिलता हैं और दोनों गोदाम प्रभारियों के द्वारा काफी समय से एक ही जगह पर नियुक्त हैं जिसके चलते इन भष्ट अधिकारियों के घोटाले की जांच करवाकर दोषी पाए जाने के बाद प्राथमिकी दर्ज करा कर तत्काल प्रभाव से हटाये जाने की बात कही जा रही है।तथा ग्राम सभाओं में किसानों की यूनिट स्पेक्टरों के द्वारा काट कर पुनः जोड़ने के लिए किसानों से रुपये लेकर ऐसा कार्य किया जा रहा है, जिसको भारतीय किसान यूनियन के लोगों ने तत्काल प्रभाव से बंद कराए जाने की मांग की है व जरवल कस्बा मैं संचालित कंप्यूटर को बंद करवा कर तहसील स्तर पर यूनिट की फीडिंग कार्य कराया जाए और जो कार्ड सही ढंग से फीड हो चुके हैं उनको भविष्य में ना काटा जाए उन्होंने यह भी लिखा है कि ऐसी दशा में बिंदुवार समस्याओं का निराकरण सही समय से ना होने की दशा में भारतीय किसान यूनियन टिकैत के द्वारा व्यापक धरना प्रदर्शन किया जाएगा उसकी सारी जिम्मेदारी किसानों ने शासन व प्रशासन की बताई है ज्ञापन सौपे जाने के मौके पर तहसील कैसरगंज दृगराज यादव, ब्लॉक अध्यक्ष जरवल माधव राज यादव,ब्लॉक अध्यक्ष कैसरगंज सदानंद यादव ,अनन्तराम पाल ,मुन्ना गौतम, जिला उपाध्यक्ष महिला प्रकोष्ठ रंजना देवी, विनोद कुमार यादव सहित भारतीय किसान यूनियन के सैकडों कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments