More
    Homeजनपदबदहाली का शिकार अंत्येष्टि स्थल।

    बदहाली का शिकार अंत्येष्टि स्थल।

    दोहरीघाट मऊ==दोहरीघाट कस्बा स्थिति मुक्तिधाम शवस्थल बदहाली का शिकार है।उत्तर प्रदेश सरकार शवदाह गृहों के रख-रखाव के लिए भारी बजट खर्च कर रही है।वही आने वाले शवो के परिजनों से साफ सफाई व व्यवस्था के नाम पर 250 रुपये भी लिए जाते है।लेकिन पूरे शवदाह स्थल पर गन्दगी,बदहाली तो वही बुनियादी सुविधाओं की कमी है।

    शव जलाने के लिए लोगो को खुद ही जगह की साफ सफाई करनी पड़ती है।मुक्तिधाम में पानी के भी पर्याप्त इंतजाम नहीं है,जिससे चलते अंतिम संस्कार करने में लोगों को परेशान होना पड़ता है।चारों ओर खुला परिसर रहने से पूरे मुक्तिधाम में कचरा एवं गंदगी का आलम है। परिसर में आवारा मवेशियों का जमावड़ा लगा रहता है, जो जिम्मेदारों की अनदेखी की कहानी बयां करते हैं।शवदाह स्थल पर लगा टिन शेड वर्षो से क्षतिग्रस्त है।जिसे आज तक ठीक नही कराया गया।क्षेत्र के अजय राय,अवधेश सिंह,केशभान यादव,गिरजा यादव,शम्भू चौहान, दशरथ भारती सहित आदि ने बताया कि शवदाह स्थल पर सुविधा के नाम पर 250 रुपये लिए जाते है,लेकिन कोई सुविधा नही है।पूरे जगह गन्दगी का अम्बार लगा हुआ है।परिसर में आवारा मवेशियों का जमावड़ा लगा रहता है।शवदाह स्थल के पास फर्श एवं पक्के चबूतरे का अभाव होने से अपने परिजनों का अंतिम संस्कार करने आने वाले लोगों को परेशानी झेलनी पड़ती है।परिसर में निर्माण सामग्री भी बिखरी पड़ी है।

    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments