पक्की सड़क के लिये टकटकी लगाये बैठे है गांव के लोग,जिम्मेदार बेखबर

0
19

कुशीनगर से अनिल राय की रिपोर्ट
एपीआई न्यूज एजेंसी
कुशीनगर।विशुनपुरा विकास खण्ड के ग्राम पंचायत मीठहा माफी टोला डेगरहा के ग्रामीण आजादी के इतने सालों बाद भी जिम्मेदारों की अनदेखी के चलते मुख्य मार्ग तक पहुचने के लिए कच्ची सड़क से ही आने जाने को मजबूर है।
लगभग 200 की आबादी वाले उक्त टोले पर आने जाने के दो मार्ग है एक पिपरा बाजार निरंकारी चौराहे से पिपरा खुर्द जाने वाले पिच सड़क से कट कर तथा दूसरा हरपुर रजवाहा की पटरी। इन दोनों मार्गो को पिच करना तो दूर की बात है जिम्मेदार इन पर खड़ंजा या इंटरलॉकिंग करना उचित नही समझ रहे हलाकि पिपरा खुर्द मार्ग से कट कर उक्त टोले को जाने वाली मुख्य सड़क पर कुछ दूर सुरुआत तथा कुछ टोले के नजदीक खड़ंजा कार्य कराया गया है लेकिन बीच की पूरी सड़क आज भी कच्ची ही है।ऐसे में अन्य मौसम में तो उक्त टोले के ग्रामीणों का आवागमन किसी तरह हो जाता है लेकिन बरसात सुरु होते ही उनका आवागमन जोखिम भरा हो जाता है यही तक नही यदि दो तीन दिन तक लगातार वारिश हो जाती है तो उक्त टोला एक टापू का रूप ले लेता है।उक्त टोले के जन आवाम में यह यक्ष प्रश्न घूम रहा है कि जहाँ देश प्रदेश की भाजपा सरकार हर गांव टोलो को मुख मार्ग से जोड़ने के लिए गांव तक पिच सड़क निर्माण करने के लिए कटिबद्ध है लगभग क्षेत्र के सभी गांव व टोलो के कच्चे मार्ग पिच में तब्दील हो चुके है ऐसे में यह गांव जिम्मेदारो की नजर से अछूता क्यो है।उक्त टोले के ग्रामीणों ने जिम्मेदारों से अतिशीघ्र उक्त समस्या से निजात की मांग की है अन्यथा की स्थिति में आंदोलन की चेतावनी भी दी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here