More
    Homeअपराधधनेजा गांव के हनुमान मंदिर से वर्षों पुरानी हनुमानजी की मूर्ति चोरी

    धनेजा गांव के हनुमान मंदिर से वर्षों पुरानी हनुमानजी की मूर्ति चोरी

    मंदिर पर पूजा पाठ नहीं हो इसके लिये जायफल और नींबू काटकर लोगों को डराने की कोशिश

    अराजक तत्वों द्वारा लोगों के मन में फैलाया जा रहा डर

    शेषमणी सिंह
    बबुरी। बबुरी थाना क्षेत्र के धनेजा गांव में स्थित एक कुटिया के पास स्थित एक हनुमान मंदिर से वर्षों पुरानी मूर्ति चोरी हो गई है। इससे नाराज ग्रामीणों ने जोरदार हंगामा किया। ग्रामीणों ने पुलिस प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा है कि यदि 48 घंटे के भीतर चोरी की गई मूर्ति वापस नहीं आती या मंदिर में मूर्ति की प्रतिष्ठा नहीं होती तो वे आंदोलन के लिये बाध्य होंगे। स्थानीय लोगों के द्वारा बताया जा रहा है कि धनेजा गांव की कुटिया पर हनुमान जी का एक सौ वर्ष पुराना मंदिर है। जहां पर मंदिर के पुजारी बुधवार की सुबह की पूजा करने गये तो देखा वहां से मूर्ति गायब है। यह देखकर वे हैरान हो गए।उन्होंने गांव जाकर लोगों को मंदिर की मूर्ति गायब होने की बात बताई। पुजारी की बात सुनने के बाद धीरे-धीरे पूरे गांव में यह बात फैल गई और सैकड़ों की संख्या में लोग मंदिर पर जा पहुंचे। ग्रामीणों का आरोप है कि यह कुछ अराजक तत्वों का काम है। जो यह नहीं चाहते कि हनुमान मंदिर के आसपास पूजा पाठ हो। लोगों में इस बात की भी चर्चा थी कि मंदिर के पास में एक डीह बाबा का एक चौरा है। जहां पर टोने टोटके का काम करके लोगों के मन में डर फैलाया जा रहा है। कहा गया कि एक सप्ताह पहले वहां जायफल और नींबू काटकर जादू टोने जैसी भी हरकत भी की गई थी। ताकि लोग वहां पूजा पाठ नहीं करें और वहां आने जाने से डरें।इस मामले में जानकारी देते हुए बबुरी थाना प्रभारी सत्येंद्र विक्रम सिंह ने कहा कि मौके पर जाकर मूर्ति चोरी की जांच पड़ताल की गई है। उनके कहा कि आरोपियों को पकड़ने की कोशिश की जा रही है। जल्द ही मूर्ति बरामद भी कर ली जाएगी

    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments