More
    Homeजनपदतीसरी लहर से अभिभावकों को डरने की नहीं सतर्क रहने की जरूरत...

    तीसरी लहर से अभिभावकों को डरने की नहीं सतर्क रहने की जरूरत है

    मुहम्मदाबाद गोहना मऊ : कोरोना संक्रमण के तीसरी लहर आने की आशंका व्यक्त की जा रही है। इसमें विशेषज्ञों ने बच्चों के लिए खतरा बताया है। लेकिन चिकित्सकों का कहना है कि इससे घबराने की नहीं, बल्कि सतर्क रहने की जरूरत है। मुहम्मदाबाद गोहना कस्बे के नाजोपट्टी खैराबाद स्थित जैनब मेमोरियल हॉस्पिटल के मशहूर चिकित्सक डाक्टर अरहम मुमताज ने रविवार को जानकारी देते हुए बताया कि कोरोना की तीसरी लहर से बच्चों को बचाने की तैयारियां अस्पताल में युद्ध स्तर से शुरू हो चुकी है।

    इस में संक्रमित मरीजों को ऑक्सीजन या दवा इंजेक्शन की कमी आदि आड़े नहीं आने दिया जाएगा। हर पहलू पर नजर रखी गई है। कहा कि अभिभावक बच्चों की दिनचर्या, खान-पान पर विशेष ध्यान दें और सकारात्मक विचार रखें। बच्चों को भीड़ भाड़ वाली जगहों से जाने से रोकें। घर से बाहर निकलने पर मास्क जरूर लगाएं। बच्चों को तेज बुखार खांसी आने पर तुरंत चिकित्सक के पास जाएं। इस बीमारी की जांच के साथ साथ कोरोना की भी जांच अवश्य कराएं। किसी तरह की कोई लापरवाही न बरतें। वरना घातक साबित होसकती हैं। बताया कि सरकार द्वारा बच्चों को वैक्सीन टीकाकरण कार्यक्रम शुरू होने पर वैक्सीन जरूर लगाएं। तीसरी लहर की आपदा से बचने के लिए अभिभावक सदैव सतर्क रहें।

    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments