More
    Homeजनपदटिकरी में बना बांध टूटा, बाढ़ का पानी रिहायशी बस्तियों की तरफ...

    टिकरी में बना बांध टूटा, बाढ़ का पानी रिहायशी बस्तियों की तरफ बढ़ा

    अभिषेक त्रिपाठी/वाराणसी

    वाराणसी। गंगा में बाढ़ से लगातार बढ़ते जलस्तर के कारण टिकरी गांव के (नाटी इमली) में 2013 में बना अस्थाई पांच फीट ऊंचा और चार फीट चौड़ा बांध टूटकर पानी बहने लगा । बांध टूटने के बाद पानी बस्तियों की तरफ बढ़ने लगा। बस्ती के लोगों ने इस बांध पर बालू की बोरी भी लगाई थी लेकिन पानी डूबने के बाद करीब 20 फिट टूटकर पानी बहने लगा। इसके कारण टिकरी, नरोत्तमपुर , रमना , बनपुरवा के किनारे रहने वाले लोगों को बस्ती खाली करना पड़ा।पानी भरने के कारण दर्जनों से अधिक घर तराई में डूब गए। पानी फैलकर अब टिकरी साहनी बस्ती और रमना स्थित सोमारू बाबा की कुटिया की तरफ चढ़ने लगा। टिकरी के रहने वाले रमेश साहनी, मुरली साहनी, मल्लू साहनी ने बताया हैं कि बाढ़ का पानी चढ़ने से इन लोगों का घर डूब गया।घरों को छोड़कर टिकरी गांव के पश्चिम परिवार और पशुओं को लेकर आ गए।

    सामनेघाट रोड पर बाढ़ का पानी : सामनेघाट से नगवा चुंगी मार्ग पर पानी बढ़ने से स्थानीय लोगों को काफी दिक्कत का सामना करना पड़ा।सामनेघाट तिराहे पर रहने वाले दर्जनो परिवार घर छोड़ कर दूसरे स्थान पर चले गए।सामनेघाट से रामनगर ब्रिज पर बुधवार की शाम बाइक और साइकिल सवारों का को भी आने जाने पर रोक लगा दिया गया। पानी भरने से कृष्णा नगर का तीन लेन, हरिओम नगर बाला जी विस्तार में घुस गया। एनडीआरएफ के जवानों ने मारुति नगर और हरिओम नगर से शाम तक 135 लोगों को बाहर निकाला

    रोहनिया विधायक ने बाढ़ क्षेत्र का किया दौरा : रोहनिया विधायक सुरेन्द्र नारायण सिंह बुधवार को बाढ़ ग्रस्त इलाके का निरीक्षण किया जिसमें रमना, मलहिया, टिकरी क्षेत्र के लोगों से उनकी समस्या पर बात की। विधायक ने बाढ़ पीड़ितों और पशुपालकों को भोजन उपलब्ध कराने के लिए तहसीलदार को फोन कर निर्देशित किए।

    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments