More
    Homeजनपदकिसानों संग भाजपा के पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं ने कोटवां विद्युत उपकेंद्र पर...

    किसानों संग भाजपा के पदाधिकारी और कार्यकर्ताओं ने कोटवां विद्युत उपकेंद्र पर दिया धरना, मचा हड़कंप।

    अमित सिंह चौहान

    मऊ | जनपद के बढुआ गोदाम स्थित कोटवा विद्युत उपकेंद्र से सप्लाई होने वाली बिजली आए दिन खराब होती रहती है जिसकी शिकायत किसानों द्वारा संबंधित अधिकारियों से किया गया था, लेकिन कोई सुनवाई नहीं होने के बाद आज शनिवार को स्थानीय किसान कोटवा विद्युत उपकेंद्र पर धरने पर बैठ गए।

    बड़ी बात यह है कि किसानों के साथ भाजपा के नेता और पदाधिकारी भी धरने पर बैठे हैं। भाजपा के नेता किसानों के साथ धरने पर बैठे इसकी सूचना जंगल में लगे आग की तरह जनपद में फैल गई जिसके बाद जनपद में हलचल मच गई है। आपको बता दें कि सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ दावा करते हैं कि किसानों को 20 – 22 घंटे बिजली मिल रही है। लेकिन जमीनी स्तर पर कुछ और ही देखने को मिल रहा है, यहाँ बिजली के लिए किसानों के साथ भाजपा नेता ही धरने पर बैठे हैं।
    धरने पर बैठे किसानों और भाजपा नेताओं का आरोप है कि कोटवां विद्युत उपकेंद्र पर तैनात जे.ई. विकास दुबे अपने कार्य के प्रति तनिक भी सक्रिय नहीं रहता है, हालात यह है कि किसान अक्सर अपनी शिकायत लेकर जे.ई. के पास जाते हैं लेकिन उपकेंद्र पर कोई उपस्थित नहीं होता है।
    भाजपा नेता अंजनी सिंह ने मीडिया से बातचीत में बताया कि बिजली की शिकायत के सम्बंध में एक्सईएन सहित तमाम उच्च अधिकारियों को ज्ञापन दिया गया लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। हम लोग मजबूर होकर के कोटवां उपकेंद्र पर धरने पर बैठ गए हैं। वही किसानों ने कहा कि खेती का सीजन है लेकिन बिजली 1 – 2 घंटे ही मिलती है, वह भी लो वोल्टेज और इस प्रकार से तमाम दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। ऐसे में हम लोग केवल बिजली का बिल भर रहे हैं और बिजली के नाम पर केवल अंधेरा ही मिल रहा है।

    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments