More
    Homeजनपदए बीएस ए ने किया आधा दर्जन विद्यालय का निरीक्षण

    ए बीएस ए ने किया आधा दर्जन विद्यालय का निरीक्षण

    अनुपस्थित प्रधानाध्यापक का वेतन रोकने की,की संस्तुति

    सतेन्द्र पाठक ः बड़ागाँव

    बडागांव- खण्ड शिक्षा अधिकारी रमाकांत सिंह ने आज प्राथमिक विद्यालय सिसवा अनेई का स्थलीय निरीक्षण किया गया।, निरीक्षण के दौरान  प्रभारी प्रधाना अध्यापक  राज बहादुर सिंह बिना किसी सूचना के विद्यालय से अनुपस्थित व सहायक अध्यापक  मोहम्मद अब्दुल्ला  विनोद सिंह और शिक्षामित्र श्रीमती अनुपमा  उपस्थित मिली विद्यालय में बच्चों का बना मिड डे मील चेक किया गया। ,जिसमें पाया गया कि मिड डे मील मीनू के अनुसार गुणवत्तापूर्ण नहीं बना है।  बच्चे बाहर इधर उधर बैठकर अव्यवस्थित तरीके से भोजन ग्रहण कर रहे थे। भोजन किसी शिक्षक द्वारा और ना ही रसोइयों द्वारा चखा  गया था।, विद्यालय परिसर व  रसोईघर गंदा पाया गया। ,भोजन गैस सिलेंडर होने के बावजूद लकड़ी पर बनाया गया था। पठन-पाठन का कोई माहौल नहीं था साथ ही कोविड-19 के गाइडलाइन का भी अनुपालन नहीं कराया गया। विद्यालय में उपस्थित सहायक अध्यापक द्वारा विद्यालय जाने का भी हस्ताक्षर अग्रिम रूप से कर दिया गया था। सभी शिक्षक और शिक्षा मित्र मोबाइल पर बात कर रहे।  ,उक्त कमियों के संबंध में उपस्थित शिक्षकों द्वारा कोई संतोषजनक  नहीं दे पाने पर  सहायक अध्यापकों को सेवा पंजिका में एक विशेष प्रतिकूल प्रविष्टि अंकित करने की संस्तुति की जाती है तथा अनुपस्थित प्रभारी प्रधानाध्यापक राजबहादुर सिंह का अनुपस्थित तिथि का वेतन अवरुद्ध करने की संस्तुति की जाती है।, इसी प्रकार प्राथमिक विद्यालय दुर्जनपुर का स्थलीय निरीक्षण किया गया विद्यालय प्रांगण अत्यंत गंदा पाया यहां भी प्रभारी प्रधानाध्यापिका श्रीमती सुमन यादव द्वारा कोविड-19 के गाइडलाइंस का अनुपालन नहीं किया गया, ऐसी स्थिति में इनकी भी सेवा पंजिका में एक  प्रतिकूल प्रविष्टि अंकित करने की संस्तुति की जाती है। प्राथमिक विद्यालय तिलवार और उच्च प्राथमिक विद्यालय घौवकलगंज तथा प्राथमिक विद्यालय खररिया और उच्च प्राथमिक विद्यालय खररिया का निरीक्षण किया गया।

    ,जहां पर सभी शिक्षक और शिक्षामित्र उपस्थित पाए गए तथा विद्यालय प्रांगण और कक्षा कक्ष में साफ-सफाई पाई पाई गई और को कोविड-19 गाइडलाइन का पालन करते हुए सभी शिक्षकों द्वारा शिक्षण कार्य किया जा रहा था। मध्यान भोजन भी मीनू के अनुसार बनाया गया था चूकि विद्यालय 23 मार्च 2021 के बाद लंबे समय के बाद खुलने पर विद्यालय में उपस्थित बच्चे काफी खुश दिखे।

    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments