More
    Homeजनपदउर्वरक की दुकानों पर जिला कृषि अधिकारी का छापा

    उर्वरक की दुकानों पर जिला कृषि अधिकारी का छापा

    रतनपुरा (मऊ)। उत्तर प्रदेश सरकार के निर्देश पर जिले में उर्वरकों की कालाबाजारी ,जमाखोरी रोकने के उद्देश्य से कृषि विभाग को छापेमारी किए जाने का निर्देश दिया गया है। इसी के तहत जिला कृषि अधिकारी उमेश कुमार ने जनपद के विभिन्न कस्बों में छापामार करके जांच पड़ताल की गई।


    जिला कृषि अधिकारी उमेश कुमार ने बताया कि वर्तमान समय में धान की रोपाई के उपरांत धान की फसल में टॉप ड्रेसिंग हेतु यूरिया उर्वरक की किसानों के बीच डिमांड बढ़ गई है। इसको दृष्टिगत रखते हुए जिला कृषि अधिकारी श्री उमेश कुमार ने जनपद के विभिन्न विकास खंडों में यूरिया की मांग को देखते हुए जनपद के अनेक थोक एवं फुटकर विक्रेताओं के यहां लगातार छापेमारी की गई, और आगे भी की जा रही है। जिला कृषि अधिकारी द्वारा आज विकासखंड रतनपुरा, मोहम्मदाबाद, रानीपुर विकास खंडों में विभिन्न उर्वरक विक्रय केंद्रों का निरीक्षण किया तथा उन्हें सख्त हिदायत दी कि यदि किसी भी विक्रेता द्वारा बिना आधार के उर्वरकों की बिक्री की जाती है तो संबंधित उर्वरक विक्रेता के विरुद्ध उर्वरक नियंत्रण आदेश के तहत कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने यह भी बताया कि जनपद में यूरिया उर्वरक की कोई कमी नहीं है। अगस्त के पहले सप्ताह में जनपद में यूरिया की एक रैक प्राप्त हो रही है। जिसको जनपद के विभिन्न क्षेत्रों में उर्वरक विक्रेताओं द्वारा विक्रय किया जाएगा। किसान भाइयों से अनुरोध है यह है कि अनावश्यक रूप से यूरिया उर्वरक का भंडारण ना करें। जनपद में समय-समय पर यूरिया उर्वरक की रैक प्राप्त हो रही है । जनपद में यूरिया की लगभग 30000 बोरी प्राप्त हो रही है, और अगस्त के प्रथम सप्ताह में इफको यूरिया की भी एक रैक यानी लगभग 50000 बोरी प्राप्त होगी। जिला कृषि अधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि जनपद के विभिन्न भागों में उर्वरक दुकानों पर निरीक्षण का कार्य सतत जारी है ,और किसानों की वर्तमान मांग को देखते हुए आगे भी जारी रहेगी। जिला कृषि अधिकारी द्वारा विकासखंड रतनपुरा के शिव उर्वरक केंद्र, श्री बंधु लाल उर्वरक केंद्र, श्री बालाजी ट्रेडर्स, श्री दुर्गविजय सिंह खाद भंडार, आदित्य खाद भंडार, वर्धन इंटरप्राइजेज, श्री यशवंत सिंह खाद भंडार तथा मोहम्मदाबाद में विशाल फर्टिलाइजर, किसान उर्वरक केंद्र, श्री रवि प्रकाश यादव भंडार, श्री विपिन खाद भंडार और दुकानों का सघन निरीक्षण किया गया ।तथा उर्वरक विक्रेताओं को सख्त हिदायत दी गई कि बिना आधार के उर्वरकों की बिक्री ना करें और किसानों को उनकी जोत के आधार पर ही यूरिया फर्टिलाइजर की बिक्री करें। जिला कृषि अधिकारी ने यह भी बताया कि यह कि किसी उर्वरक विक्रेता द्वारा पीओएस मशीन के बिना उर्वरकों की बिक्री की जा रही है तो उसके विरुद्ध तत्काल कार्रवाई की जाएगी । किसान भाई यूरिया और अन्य रासायनिक उर्वरकों के क्रय करने हेतु आधार का अवश्य प्रयोग करें । भारत सरकार तथा उत्तर प्रदेश सरकार किसानों को एक पारदर्शी और वितरण प्रणाली के तहत उर्वरकों की बिक्री हेतु कटिबद्ध है। जिसके तहत उर्वरकों की बिक्री हेतु कृषि तथा जिला प्रशासन मऊ सतत प्रयत्नशील है। यदि किसी भी उर्वरक विक्रेता के गोदाम के स्टॉक और पीओएस मशीन के स्टॉक में अंतर पाया जाता है तो संबंधित उर्वरक विक्रेता के विरुद्ध कार्रवाई की जाएगी।

    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments