More
    Homeजनपदआदर्श ग्राम नागेपुर में किसानों ने नये कृषि कानून के खिलाफ धरना...

    आदर्श ग्राम नागेपुर में किसानों ने नये कृषि कानून के खिलाफ धरना दिया

    अभिषेक त्रिपाठी/मिर्जामुराद

    मिर्जामुराद। संयुक्त किसान मोर्चा के बैनर तले अगस्त क्रान्ति के दिवस के अवसर पर दिल्ली बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन के समर्थन में सोमवार आदर्श ग्राम नागेपुर के किसान व ग्रामवासी लामबंद दिखे। लोक समिति के कार्यकर्ता और ग्रामवासियों ने किसानों की मांगों को लेकर धरना-प्रदर्शन किया। आक्रोशित किसानों ने नये कृषि कानूनों को तत्काल निरस्त करने की मांग की। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि कृषि कानून निरस्त नहीं किया गया तो उनका आंदोलन इसी तरह जारी रहेगा। इस मौके पर किसानों ने कहा कि अगर सरकार ने किसानों की मांगों पर सकारात्मक रुख नहीं अपनाया, तो वे पुरी ताकत से किसानों की लड़ाई लड़ने के लिए सड़कों पर उतरने को मजबूर होगा।
    लोक समिति के संयोजक नन्दलाल मास्टर ने कहा है कि हम केंद्र सरकार द्वारा लाए गए तीनों किसान विरोधी कानूनों का विरोध करते हैं। केंद्र सरकार द्वारा दिल्ली में पिछले कई माह से लाखों किसान शांतिपूर्ण तरीके से सड़कों पर आंदोलन कर रहे हैं, लेकिन केंद्र सरकार के कान पर जूं तक नही रेंग रही है। किसानों की आमदनी दोगुनी करने का वादा करने वाली सरकार किसानों से उनकी जमीन छीनने का षड्यंत्र रच रही है।
    कार्यक्रम में मुख्यरूप से रामबचन, श्यामसुन्दर, अमित, पंचमुखी, सोनी, सरिता, अनीता, सरोज, मैनब, राजकुमारी, चन्द्रकला, सीमा, प्रेमा शिवकुमार, आशा, मधुबाला, विद्या, शमाबानो, सीमा, सुनील, मनजीता, अरविन्द, सावित्री, राखी, संजू, खुशबू, आदि लोग शामिल रहे।

    RELATED ARTICLES

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here

    - Advertisment -

    Most Popular

    Recent Comments