अधिक उत्पादन के लिए मृदा परीक्षण व संतुलित उर्वरक का प्रयोग आवश्यक- निखिल सिंह

0
17

रतनपुरा,मऊ। स्थानीय दुर्गा मंदिर पर बुधवार को एक कृषक गोष्ठी का आयोजन इंडोरामा फर्टिलाइजर के तत्वावधान में किया गया ।
गोष्ठी के मुख्य अतिथि इंडोरामा फ़र्टिलाइज़र कंपनी के सेल्स मैनेजर निखिल सिंह ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि खेत से उम्दा और अत्यधिक उत्पादन लेने के लिए मृदा परीक्षण कराना बेहद आवश्यक है।

इसके साथ ही उन्होंने सुझाव दिया कि जमीन का पीएच लेवल बेहतर बना रहे, इसके लिए संतुलित उर्वरकों का प्रयोग बेहद जरूरी है। उन्होंने कहा कि मौजूदा दौर में कृषि का उत्पादन भी तकनीक आधारित हो गई है। जिसकी वजह से किसानों को कृषि की नई तकनीकों के आधार पर खेत की बुवाई और रोपाई किया जाना चाहिए। खेत को समय-समय पर सूक्ष्म तत्व ,नाइट्रोजन, पोटेशियम ,फास्फोरस , जिंक, सल्फर, मैग्नीशियम इत्यादि मिलते रहना चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने किसानों से कहा कि 33 प्रतिशत जिंक के साथ कभी भी यूरिया का मिश्रण करके छिड़काव नहीं करना चाहिए। क्योंकि इससे खेत को लाभ नहीं मिलेगा ।33 परसेंट जिंक का उपयोग सड़ी गोबर अथवा जाइम के साथ खेत में छिड़काव करना चाहिए। इससे फसल को पर्याप्त लाभ मिलेगा। गोष्ठी में पियरा ,खैरा तथा अन्य रोगों से संबंधित जानकारी और उसका उपचार बताया गया। बैठक में मशीन खेत में स्प्रे किए जाने की तकनीकी जानकारी देते हुए निखिल सिंह ने कहा कि स्प्रे का संचालन आगे से पीछे की तरफ किया जाना चाहिए। इससे किसान की सुरक्षा रहती है। तथा फसलों को पर्याप्त पोषण भी मिल जाता है।
किसान गोष्ठी मे भगवानदास गुप्त, नंद किशोर साहू, मनोज कुमार, जसवंत सिंह बबलू , कृष्ण गुप्ता, चंद्रमा प्रसाद गुप्त, रामप्यारे पटेल,डॉ अभिमन्यु सिंह, आनंद कुमार गुप्ता, सुरेश कुमार श्रीवास्तव गुलाब चंद्र सिंह , रविंदर सिंह सहित 50 किसान मौजूद थे। गोष्ठी की अध्यक्षता ग्राम प्रधान जय किशोर साहू ने किया । गोष्ठी में सभी किसानों को मास्क उपलब्ध कराते हुए सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here